facebook
 

दांतों को साफ करने का तरीका

दांतों को साफ करने का तरीका

BY Admin Date: 2020-04-29

Tooth Cavities & Pain Natural Remedies

दांतों में सड़न या दांतों में कीड़े लगना यह एक ऐसी समस्या हैं जो समय के साथ साथ बढ़ती जाती हैं और आगे चल के असहनीय दर्द की वजह बनती हैं।

दांतों में जब कैविटी जमना शुरू होती हैं तो शुरुआत में यह एक काले दाग की तरह नजर आते हैं और अगर इस पर ध्यान नही दिया जाए तो धीरे धीरे बढ़ने लगती हैं और दांतों की अंदर की परत में छेद करने लगती हैं और अंदर की नसों तक पहुँच जाती हैं ज्यादा गंभीर स्थित होने पर या इंफेक्शन फैलने पर सड़न वाले दांतों को निकालने के अलावा कोई दूसरा रास्ता नही बचता लेकिन फिर भी कुछ असरदार उपाय के जरिये गंभीर से गंभीर सड़न और दांतों में लगे कीड़े से पूरी तरह छुटकारा पाया जा सकता हैं यह वो तरीके हैं जिनसे पुराने समय के लोग डेंटिस्ट ना होने पर अपने दांतों से संबंधित बीमारियों का इलाज किया करते थे।

दांतों में सड़न या कैविटी की जो मुख्य वजह होती हैं वह हैं हमारे मुँह में रहने वाले बैटेरिया यानी (सूक्ष्मजीव) जिन्हें हम अपनी आँखों से नही देख सकते हालाँकि ये बैटेरिया हमारे मुँह में जन्म से ही होते हैं लेकिन जब हम दांतों की देखबाल में लापरवाही शुरू करते हैं तो मुँह में मौजूद इन बैटेरिया की तादाद बढ़ जाती हैं और यह सड़न पैदा करने लगते हैं।

खाने में हम कुछ भी काले रंग का नही खाते हैं रोजाना दातुन भी करते हैं फिर यह काली सड़न आती कहाँ से हैं और यह दातुन करने के बावजूद भी क्यू नही निकलती, हमारे दांतों में जो बैक्टीरिया होते हैं उन्हें दो चीजें सबसे ज्यादा पसंद होती हैं।

शुगर और कार्बोहाइड्रेट जब हम चीनी से बनी मीठी चीजों का ज्यादा सेवन करते हैं या मेदा से बनी या दांतों में चिपकने वाली चीजें, ड्राई फ्रूट या मुफ़ली से बनी चीजों का सेवन करते हैं तो मुँह में मौजूद बैक्टीरिया एक तरह का एसिड छोड़ते हैं

जिन्हें लैक्टिक एसिड कहा जाता हैं

यह एसिड हमारे दांतों को धीरे धीरे गलाना शुरू करता हैं और सड़न पैदा करके धीरे धीरे जगह को काला करने लगता हैं 
इसलिए कहा जाता हैं की ज्यादा मीठा खाने से दात सड़ जाते हैं और एक बार दांतों में कीड़े लगना शुरू हो जाए तो थोड़े समय के लिए मीठा और दांतों में चिपकने वाले चीजों को पूरी तरह बन्द कर देना चाहिए मीठे से हमारे दांतों को नुकसान पहुँचता हैं

आइये सबसे पहले जानते हैं कुछ असरदार नुस्खों के बारे में जिससे दांतों में हुई कैविटी को रोका जा सकता हैं और बढ़ रहे कीड़ों से पूरी तरह छुटकारा पाया जा सकता हैं।

इसके बाद हम बात करेंगे कैविटी के कारण अगर दांतों में छेद हो गया हैं तो उससे ठीक करके अंदर की परत को कैसे ठीक किया जाए 
साथ ही दांतों में तेज दर्द हो तो दर्द से राहत पाने के लिए क्या किया जा सकता हैं।

1-तिल और लॉन्ग का तेल

तिल और लोंग तेल दांतों में दांतों में बढ़ रही कैविटी को रोकने के लिए बहुत अधिक फ़ायदेमंद होती हैं लोंग के अंदर अंतिमिकरोबियल, ऐंटीसैप्टिक, एंटीबायक्टेरियल और एंटीफंगल प्रौपर्टी पायी जाती हैं जिसके इस्तेमाल से दांतों को गला कर खोखला करने वाले बैक्टीरिया तेजी से कम होने लगते हैं

एक चम्मच तिल के तेल में तीन से चार बंद लोंग का तेल डालकर इसे रोज़ सुबह खाली पेट दस से बीस मिनट कुल्ला करें इसी के साथ तिल के तेल और लोंग के तेल को कम मात्रा में मिक्स कर ले और काटन की दास के आकार के बराबर तैयार तेल में भिगो ले इसके बाद काटन वाली बॉल को दांतों के बीच में दबाकर रखे
रुई की बॉल दांतों के बीच में दबाकर रखने से ऑयल दांतों के बीच में जाता रहता हैं जिससे दूसरे दिन में ही काफी अच्छे रिसुल्ट मिलने लगते हैं और दांतों का दर्द पूरी तरह ठीक हो जाता हैं दिन भर में इस प्रक्रिया को दोहराने के लिए इसे छोटी डिब्बी में तीन से चार काटन में भिगोई बॉल को अपने पास रखे और हर बार खाना खा के कुल्ला करके इससे दस मिनट के लिए अपने दांतों के बीच रख ले इस तरह से बढ़ती सड़न को दुगनी रफ्तार से ठीक करता हैं तिल और लोंग का तेल आपको किसी भी पंसारी या किसी आयुर्वेदिक दुकान पर तीस से चालीस रुपए में मिल जायेगा और अगर आप चाहे तो इससे ऑनलाइन भी खरीद सकते हैं।

2-लहसून 

लहसुन भी दांतों में बढ़ रहे कैविटी को खत्म करने के लिए बहुत फ़ायदेमंद होता हैं तीन से चार लहसुन के कलियों को बारीक काट ले और इसमें एक चुटकी संधा नमक या पिंक साल्ट मिलाकर अच्छी तरह मिक्स कर ले उसके बाद इसे सड़न वाले दांतों के बीच फसाकर रख ले रोजाना सुबह शाम एक बार करने से दांतों में लगे बैक्टीरिया खत्म हो जाते हैं और कालापन पूरी तरह दूर हो जाता हैं।

3-फिटकरी 

दांतों में हर तरह के दर्द से छुटकारा पाने के लिए फिटकरी का इस्तेमाल करना सबसे बेहतर माना जाता हैं चाहे दांतों में सड़न हों नया दात आ रहा हो या कोई दात टूटा हो हर तरह की स्तथि में फिटकरी के इस्तेमाल से दर्द को ठीक किया जा सकता हैं।

इसका इस्तेमाल करने के लिए एक ग्लास पानी में एक फिटकरी टुकड़े को एक से दो मिनट पानी में रख दे उसके बाद इस पानी को चम्मच से हिलाकर इसमें डाली गयी फिटकरी को बाहर निकाल दे और तैयार पानी को मुँह में रखकर तीन से चार मिनट के लिए घुमाते रहे इस प्रक्रिया को दिन में दो से तीन बार करें लगातार ऐसा करने से चार से पांच दिनों में ही गंभीर से गंभीर दांतों की समस्या को ठीक कर देते हैं।

4-कैल्शियम , मैग्नीशियम ,प्रोबियोटिक की ज़रूरत 

अगर आपके दांतों में कैविटी की वजह से छेद हो जाता हैं तो कालापन हटने के बाद भी छेद रह जाता हैं इसे भरने के लिए बहुत जरूरी हैं अपनी डाइट में कैल्शियम, मैग्नेशियम, प्रोबायोटिक और फैटी एसिड का भरपूर मात्रा में इस्तेमाल किआ जाना चाहिए।

क्योंकि यह सभी चीजें दांतों की इंहाइमल चीजों को रिकवर करने में सबसे फ़ायदेमंद होती हैं कैल्शियम और मग्नेशियम के लिए रोजाना दूध का सेवन करें दिन के समय कम से कम एक कटोरी दही खाये इन दोनों में विटामिन, कैल्शियम, मैग्नेशियम की मात्रा अधिक होती हैं दूध के अलावा कैल्शियम की मात्रा शरीर में अधिक बढ़ाने के लिए हफ्ते में तीन बार एक चुटकी खाने वाले चुने को गर्म पानी के साथ मिलाकर किया जा सकता हैं।

इस्तेमाल करने के लिए जो चुना पान में डाला जाता हैं केवल उसी चुने का प्रयोग करें अगर दात बहुत ज्यादा गल चुके हैं तो इसके लिए कैल्शियम, मैग्नेशियम और प्रोबियोटिक के सप्लेमेंट का सेवन किया जा सकता हैं सप्लेमेंट अपनी डाइट में शामिल करने से गले हुए दात भी बहुत तेजी से शुरू हो जाते हैं और साथ ही इनका कोई साइड इफेक्ट भी नही हैं।

5-रोज़ाना दातुन करें 

वैसे तो दांतों में जब छोटा काला निशान दिखाई देने लगता हैं उसी वक्त सतर्क हो जाना चाहिए लेकिन दांतों में सड़न या कैविटी हो चुकी हो तो दिन में दो बार दातुन करना शुरू कर दे खाने के बाद कुल्ला करें खाने में जितनी कम मीठी चीजें खाते हो उसे कम कर दे और ऐसी चीजें बिल्कुल ना खाये जिनका खाने के बाद कोई अंश रहना नही चाहिए।

क्योंकि इसी बचे हुए भोजन के अंश में बैक्टीरिया लगता हैं सड़न लगता हैं पानी भी ज्यादा से ज्यादा पिये और धूम्रपान गुटका आदि सेवन से दूर रहे घरेलू उपाय के साथ साथ अगर आप इन सावधानियां का ध्यान रखते हैं तो दांतों में कैविटी और सड़न की समसिया बिना डॉक्टर के ही किसी भी तरह पूरी हो सकती हैं।

दांतों को साफ करने का तरीका
मुझे उम्मीद है की आपको हमारी यह पोस्ट दांतों को साफ करने का तरीका जरुर पसंद आई होगी. हमारी हमेशा से यही कोशिश रहती है की पढ़ने वाले को दांतों को साफ करने का तरीका के विषय में पूरी जानकारी प्रदान की जाये जिससे उन्हें किसी दूसरी websites या internet में उस इस जानकारी के सन्दर्भ में खोजने की जरुरत ही नहीं रहे। 

इससे आपके समय की बचत भी होगी और एक ही जगह पर सारी जानकारी भी मिल जाये. यदि आपके मन में इस पोस्ट को लेकर कोई भी शंका हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार होनी चाहिए तो इसके लिए आप निचे कमैंट्स में लिख सकते हैं। 

यदि आपको यह post दांतों को साफ करने का तरीका पसंद आया या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter और दुसरे Social media sites share कीजिये। 

इस पोस्ट को इंग्लिश में पढ़े Tooth Cavities & Pain Natural Remedies

दांतों को साफ करने का तरीका teeth cavity filling teeth cavity home remedy tooth cavity ayurvedic treatment tooth cavity during quarantine tooth cavity home treatment teeth cavity in hindi tooth cavity treatment video teeth cavity upay tooth cavity teeth cavity teeth cavity cleaning