facebook
 

बढे हुए कोलेस्ट्रॉल को कैसे पहचाने

बढे हुए कोलेस्ट्रॉल को कैसे पहचाने

BY Admin Date: 2020-05-05

Signs of Your Arteries full Of Cholesterol


हाई ब्लड कोलेस्ट्रॉल या हैपरकॉलेस्ट्रोलिमिया एक ऐसी समस्या हैं जिसने आज पूरी दुनिया को प्रभावित कर रखा हैं।

मनुष्य में यह सबसे तेज़ फैलने वाली बीमारी पाई जाती हैं।

क्योंकि कोलेस्ट्रॉल  जैसे विषय के बारे में अक्सर लोगों को जानकारी नही होती हैं और शरीर में धीरे धीरे बढ़ रहे कोलेस्ट्रॉल के लक्षणों को वह लगातार नज़रंदाज़ कर रहे होते हैं, ऐसे में हो सकता हैं आपके शरीर में कोलेस्ट्रॉल  बढ़ रहा हो और आप भी इस बात से पूरी तरह अंजान हो।

वर्ल्ड हेल्थ आर्गनाइजेशन के मुताबलिक ऐसे दस कारण जिसकी वजह से पूरे विश्व में हर साल सबसे ज्यादा लोग अपनी जान गँवा देते हैं।

इस लिस्ट में सबसे ऊपर आकस्मिक दिल की बीमारी हैं।

इस बीमारी से दिल तक खून और आक्सीजन पूरी तरह से नही जाता और किसी भी वक्त हार्ट अट्टेक होने का खतरा रहता हैं इस पूरी बीमारी की मुख्य वजह बढ़ा हुआ कोलेस्ट्रॉल  ही होता हैं केवल भारत में ही 12 लाख से ज्यादा लोगो की मौत दिल के बीमारी से हो जाती हैं जिनमें 19 साल से लेकर 70 साल के लोग शामिल हैं।

कोलेस्ट्रॉल क्या होता हैं 


आखिर यह हमारे शरीर में बढ़ता कैसे हैं और किस तरह घर पर ही पता लगाया जा सकता हैं की कोलेस्ट्रॉल  बढ़ा हुआ हैं या नहीं कोलेस्ट्रॉल  मोमबत्ती तरह चिकना पीले कलर का प्रदार्थ होता हैं जो की हमारे शरीर के लिए खून जितना ही जरूरी होता हैं क्योंकि कोलेस्ट्रॉल  से लीवर में बिले एसिड्स का निर्माण होता हैं जिससे भोजन मिलने में सहायता मिलती हैं, यह धूप से शरीर को विटमीन D मिलाने में भी मदद करता हैं और इसी के वजह से शरीर में सेक्स हॉर्मोन्स भी सही तरीके से बनते हैं।

इसलिए देखा जाए तो कोलेस्ट्रॉल  शरीर के लिए बहुत जरूरी होता हैं इसलिए 70% कोलेस्ट्रॉल  शरीर में खुद लीवर द्वारा बनाया जाता हैं और केवल 30% हमें भोजन से मिलता हैं।

कोलेस्ट्रॉल  मुख्य तहत दो प्रकार के होते हैं।

LDL और HDL ( high denstiy lipoprotein ) अच्छा कोलेस्ट्रॉल  होता हैं और LDL ( low denstiy lipoprotein ) बूरा कोलेस्ट्रॉल  होता हैं क्योंकि यही वो कोलेस्ट्रॉल  हैं जो आर्टरीज में जमने लगता हैं।

ऐसी चीजें जिसमें LDL की मात्रा अधिक होती हैं उनका सेवन करने से शरीर में बेड कोलेस्ट्रॉल बढ़ने लगता हैं।

सबसे ज्यादा डीपफ्रैंड चीजों और नोन वैज में पाया जाता हैं यानी तला हुआ तेल शरीर कोलेस्ट्रॉल को तेजी से बढ़ाता हैं इसके अलावा घी, मैदा, बटर, वैजिटेबल ऑयल, केक, पेस्ट्री और बहुत ज्यादा मीठी चीजें, तले हुए, अंडे, सिगरेट और शराब पीने से भी कोलेस्ट्रॉल बढ़ता हैं।

बढ़ा हुआ कोलेस्ट्रॉल शरीर में खून ले जाने वाली नस यानी आर्टरीज में जमा होने लगता हैं जिससे समय के साथ साथ नसो में प्रेशर और ब्लॉकेज आने लगती हैं।

सबसे ज्यादा कोलेस्ट्रॉल हमारे दिल में कोनिर्या आर्टरीज और दिमाग की आर्टरीज में जमता हैं और इसी तरह अचानक हार्ट अटैक और ब्रेन स्टौक आने का खतरा बढ़ जाता कई बार इंसान दिखता तो स्वस्थ हैं लेकिन शरीर में बढ़ रहे कोलेस्ट्रॉल की वजह से वह अचानक दिल की बीमारी की चपेट में आ जाता है।


इसकी दो सबसे मुख्य वजह हैं।

एक आपका लाइफस्टाइल में किसी भी तरह का वर्कआउट नही हैं।

और दूसरा हमारा हैवी भोजन सही से पचता भी नही और साथ ही चर्बी भी बढ़ाता हैं।

कुछ विशेष लक्षण होते हैं जो की दिल की बीमारी और बढ़ रहे कोलेस्ट्रॉल को शुरुआती दोर में दर्शाते हैं ऐसे लक्षणों को नज़रंदाज़ नही करना चाहिए और शुरुआत में ही इसे गंभीरता से लेना चाहिए।

अगर आप में और आपके परिवार या मित्रों में इस तरह के लक्षण दिखाई दे तो उनसे कोलेस्ट्रॉल चेक अप करवाने की सलाह ज़रूर दे कोलेस्ट्रॉल की वजह से हमारे शरीर के अंगों तक खून पहुंचाने वाली Arteries सिकुड़ने लगती हैं जिसकी वजह से हमारी बॉडी muscles में रक्त का प्रभाव कम होने लगता हैं।

खासकर पैरों में ऐसे में हाथ पैर सून होने लगते हैं बैठे बैठे या सोते समय रात को नस चढ़ जाती हैं और अक्सर पैर में झुनझुनी या चिट्टी काटने जैसा होता हैं।

इसके अलावा आपके हाथ पैर अक्सर ठंडे रहते हैं तो हो सकता हैं उसमे बढ़े हुए कोलेस्ट्रॉल की वजह से खून का बहाव ठीक तरह से ना हो रहा हो कोलेस्ट्रॉल की वजह हमारा शरीर पोषक तत्वों को पूरी तरह ग्रहण नही कर पाता जिसकी वजह से शरीर में धीरे धीरे नूट्रेशनस् की कमी आने लगती हैं और साथ ही high LDL कोलेस्ट्रॉल दिल तक नसो में खून जमाने वाली प्लग जमा कर देता हैं जिससे ब्लड flow कम हो जाता हैं ऐसे में थकान, ज्यादा पसीना आना और थोड़े से में ही जल्दी हाफजाना वाले लक्षण नजर आने लगते हैं।

जो लोग रोज़ रोज़ या ज्यादा थका हुआ महसूस करता हैं या जिन्हें लगातार आलस या सुस्ती आती रहती हैं एक बार अपने कोलेस्ट्रॉल की जाँच करा लेना चाहिए।

अगर शरीर HDL अच्छे कोलेस्ट्रॉल की मात्रा अधिक होती हैं तो यह शरीर की चर्बी कम करता हैं और फैट को बर्न करने का काम करता हैं।

वही LDL बुरा कोलेस्ट्रॉल की मात्रा कम होती हैं यह शरीर का वज़न बढ़ाने लगता हैं इसलिए ओवरवेट लोग की कोलेस्ट्रॉल की मात्रा अधिक होती हैं और इन्हें दिल और दिमाग की बीमारी होने का खतरा रहता हैं।

हालाँकि ऐसी और प्रॉब्लम होती हैं जिससे सीने में जलन होती हैं लेकिन शरीर म बढ़ा हुआ कोलेस्ट्रॉल भी कहीं बार चैस्ट पैन और ऐनजाइम Arteries में जमा फैटी सबस्टेंस खून के भाव में रुकावट पैदा करता हैं जिसके वजह से थोड़े समय बाद चैस्ट वाले एरिया में दर्द, भारीपन और अंदरुनी चुभन रहती हैं।

शरीर में बढ़ा हुआ कोलेस्ट्रॉल दिल के साथ साथ दिमाग में खून पहुंचाने वाली करोट्रिड आर्टरीज पर पड़ता हैं जिसकी वजह से सर के पिछले हिस्से और आधे सर में अचानक दर्द होने लगता हैं।

शरीर में बढ़े हुए ट्रिग्लीसेरेड्स की वजह से माइग्रेन होने की समस्या हो सकती हैं और कभी कभी चक्कर और घबराहट होने लगती हैं।

बढ़ा हुआ बेड कोलेस्ट्रॉल दिल और फेफड़े में खून के संचार को कम करता हैं ऐसे में थोड़ा काम करने पर ही व्यक्ति हाफने लगता हैं ज्यादा थका हुआ महसूस करता हैं।

सांस छोटी होने लगती हैं।
सांस लेने की तकलीफ के साथ साथ कोलेस्ट्रॉल की वजह से ज्यादा पसीना आना और साँसों से बदबू आना शुरु हो जाती हैं।

रक्त में बढ़े LDL हमारी पाचन क्रिया पर भी असर पड़ता हैं।

लीवर में कोलेस्ट्रॉल बढ़ने से हमारा मेटाबोलिसम् कमज़ोर होने लगता हैं और जब भी हम ज्यादा चर्बी पैदा करने वाली चीजें खाते हैं तो हमारा पेट फूलने लगता हैं।

खाना ठीक से नही पचता और बार बार गैस और कब्ज जैसी समस्या होने लगती हैं।

इसके अलावा फ्रेश होते समय पतला मल निकलना भी शरीर मे बढ़े हुए कोलेस्ट्रॉल का लक्षण माना जाता हैं।

जब शरीर low lipoprotein density की मात्रा बढ़ती हैं तो यह आँखों के आस पास हलके पीले रंग के रूप में दिखाई देने लगते हैं शुरुआत में यह बहुत छोटे होते हैं लेकिन धीरे धीरे यह आँखों के आस पास फेलकर बड़े होने लगते हैं अगर सही समय पर इन पर ध्यान नही दिया जाए तो यह धीरे धीरे फैलने लगते और धीरे धीरे इनमें दर्द होना भी शुरू हो जाता हैं इस तरह की समस्या को xanthelasma कह जाता हैं।

तो ये थे शरीर बढ़े हुए बेड कोलेस्ट्रॉल कुछ सामान्य लक्षण जिन्हें हमें कभी भी नज़रंदाज़ नही करना चाहिए।

बढे हुए कोलेस्ट्रॉल को कैसे पहचाने 

मुझे उम्मीद है की आपको हमारी यह पोस्ट बढे हुए कोलेस्ट्रॉल को कैसे पहचाने जरुर पसंद आई होगी. हमारी हमेशा से यही कोशिश रहती है की पढ़ने वाले को बढे हुए कोलेस्ट्रॉल को कैसे पहचाने के विषय में पूरी जानकारी प्रदान की जाये जिससे उन्हें किसी दूसरी websites या internet में उस इस जानकारी के सन्दर्भ में खोजने की जरुरत ही नहीं रहे। 

इससे आपके समय की बचत भी होगी और एक ही जगह पर सारी जानकारी भी मिल जाये. यदि आपके मन में इस पोस्ट को लेकर कोई भी शंका हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार होनी चाहिए तो इसके लिए आप निचे कमैंट्स में लिख सकते हैं। 

यदि आपको यह post बढे हुए कोलेस्ट्रॉल को कैसे पहचाने पसंद आया या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter और दुसरे Social media sites share कीजिये। 

इस पोस्ट को इंग्लिश में पढ़े High Cholestrol Symptoms


high cholesterol foods high cholesterol symptoms high cholesterol test high cholesterol treatment high cholesterol treatmenthigh cholesterol treatment in hindi Signs of Your Arteries full Of Cholesterol Signs of Your Arteries full Of Cholesterol how to drink milk without sugar कोलेस्ट्रॉल को कैसे कम किया जाये