facebook
 

आँखों की रौशनी तेज़ कैसे करे

आँखों की रौशनी तेज़ कैसे करे

BY Admin Date: 2020-05-07

Improve Eyesight Naturally


क्या आप जानते हैं 75% से ज्यादा लोग आज आँखों से संबंधित किसी ना किसी रोग से पीड़ित हैं या कमज़ोर रूप से आँखों पर चश्मा लगा हैं।

वजह हैं शरीर में पोषक तत्वों की कमी इलेक्ट्रानिक डिवाइस का तेज़ी रफ्तार से बढ़ना खुद की देखबाल में लापरवाही बरतना हम सभी अपने बाल, त्वचा और शरीर बड़ा ध्यान रखते हैं लेकिन किसी भी व्यक्ति को याद नही होगा की आखरी बार उसने अपने आँखों की देखबाल के लिए कोई भी प्रयास कब किया था ?

दूरी और पास का साफ साफ दिखाई नही देना पढ़ते समय सर दर्द आँखों से पानी आना अक्सर भारी पन रहना रात के समय कुछ नही दिखना या बिना चश्मे के ठीक से नही दिखना यह सभी आँखों के कमज़ोरी के लक्षण होते हैं।

आँखों के कमज़ोरी के चलते जब एक बार किसी व्यक्ति को नंबर का चश्मा लग जाता हैं तो सभी को ये मानना पड़ता हैं की या तो यह चश्मा पूरे दिन पहने रहना पड़ेगा या आँखों को दोबारा ठीक करने के लिए आँखों का आपरेशन या लेज़र ट्रिटमैंट करवाना पड़ेगा।

लेकिन असल में अपने खान पान और लाइफस्टाइल को चेंज करके अगर कुछ खास नैचरल चीजों को diet में शामिल कर लिया जाए तो इससे आँखों की कमज़ोरी दूर भी होती हैं और साथ ही बिना चश्मे के साफ साफ दिखाई देने लगता हैं।

ऐसे कई लोग हैं जो आँखों की कमज़ोरी के कारण पिछले 10, 15 सालों से आँखों पर चश्मा और कांटेक्ट लैंसेस के इस्तेमाल करते हैं लेकिन बादमे एक आसान उपाय से उन्होंने अपनी आँखों को ठीक और पहले से स्वस्थ बना लिया जैसे जैसे आप रेगुलर बेसिस पर अपनी आँखों के इंप्रोवमेंट् के लिए समय देने लगते हैं वैसे वैसे कमज़ोर आँखों की मास पेशीयां दोबारा मजबूत होने लगती हैं और आँखों को शक्ति पहले से ज्यादा अच्छी होने लगती हैं।

आइये जानते हैं आँखों को बेहतर करने के लिये कुछ असरदार उपाय सबसे पहले बात करते हैं आँखों पर कुछ लगाने वाले नुस्खों की उसके बाद हम जानयेंगे कुछ खाए जाने वाले चीजों की और जरूरी सावधानियां की जिनका ध्यान रखना बहुत अनिवार्य हैं।

खान पान के साथ आँखों के नसों को आराम पहुंचाने और देखने की शक्ति को पहले से बेहतर करने के लिए आँखों के विशेष चीजों से कमाल का बदलाव आने लगता हैं।

सोंफ और खीरे 

सौंफ और खीरे को आपस मैं मिलाकर आँखों पर लगाने से आँखों में आई कमज़ोरी से तेज़ी से सुधार आने लगता हैं।
 
पहले सौंफ को पानी में मिलाकर एक से दो घण्टे गलाकर रखे नरम हो जाने पर इसे आधे खीरे के साथ मिक्सर में चलाकर पेस्ट बना ले फिर इस तैयार पेस्ट को अपनी आँखों पर तीस से चालीस मिनट लगाकर रखे अगर आपका दिन भर पढ़ने या कंप्यूटर इस्तेमाल करने का काम हैं तो इस मिश्रण को तैयार होने के बाद  दस मिनट तक फ्रीजर में ठंडा होने के लिए रख दे ऐसा करने से इसकी ठंडक बढ़ जाती हैं और आँखों को काफी आराम मिलता हैं।

सौंफ से पानी लेकर इसे खाना और पीना भी आँखों के लिए काफी अच्छा माना जाता हैं।

सौंफ और खीरे के मिश्रण का असर और अधिक बढ़ाने के लिए इसे इस्तेमाल करने से पहले आँखों की दस मिनट अच्छे से मसाज करना भी जरूरी हैं।

मसाज के लिए बादाम और अरंडी का तेल सबसे फ़ायदेमंद होता हैं दोनों में से किसी एक या दोनों को आपस में मिलाकर आँखों की मसाज की जा सकती हैं।

आँखों के आस पास आँखों को बन्द करके आँखों पर सर्कुलर मोशन में दस से पंद्रह मिनट उंगलियों की मदद से हल्के हल्के मसाज करे ऑयल मसाज करने से आँखों का ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता हैं और आँखों की रोशनी पहले से ज्यादा बेहतर बनती हैं।

मसाज करने के दौरान आँखों में अगर थोड़ा बहुत तेल चला भी जाए तो इससे आँखों को कोई नुकसान नही हैं।
 
ध्यान रहे बादाम और अरंडी का तेल 100% प्योर ऐक्स्ट्रा वर्जन और कोल्ड प्रेस हो पूरी तरह केमिकल फ्री हो जिन लोगों को दूर या पास का ठीक तरह से नही दिखाई देता या जिन को आँखों की कमज़ोरी के चलते बार बार सर में दर्द होता हैं उन्हें आँखों कि मसाज और खीरे वाले नुस्ख़ों को काम से कम दो से तीन बार रात को सोने पास पहले ज़रूर इस्तेमाल करें इन दोनों तरीके से ना सिर्फ आँखों की कमज़ोरी दूर होती हैं बल्कि आँखों की चमक भी बढ़ती हैं और जिन लोगो के आँखों के आस पास काले घेरे हैं वो भी इन दोनों उपाय से पूरी तरह ठीक हो जाते हैं।

खान पान और diet की अगर बात की जाए जिन लोगों की आँखें कमज़ोर हो जाती हैं उन्हें अपना पेट साफ रखना चाहिए।

क्योंकि पेट ठीक तरह से साफ नही होने या कब्ज की समस्या से आँखों की सेहत पर बहुत असर पड़ता हैं।

अगर आपका पेट ठीक तरह से साफ नही होता रात को सोते समय त्रिफला चूरन का सेवन करें या अपनी रेगुलर डाइट मैं सलाद की मात्रा को बढ़ाये पपीता जैसे हाई फ़ाइबर को इंक्लूड करें शरीर के सभी अंगों की तरह ही हमारे आँखों की प्रोपर फंक्शनिंग के लिये कुछ खास नुट्रिएंट की ज़रूरत होती हैं जिनकी कमी होने पर ही हमारी आँखें कमज़ोर होने लगती हैं।

अगर रोजाना कुछ ऐसी चीजें खाना शुरू कर दे जिनमें आँखों के लिये पोषक तत्व पूर्ण मात्रा मैं पाए जाते हो तो कमज़ोर आँखें भी तेजी से ठीक होने लगती हैं।

और आँखों की रोशनी यानी देखने की शमता पहले से ज्यादा अच्छी हो जाती हैं सभी तरह के बीज जिनमें एंटी ऑक्साइडण्ट और अमीनो एसिड की मात्रा ज्यादा होती हैं आँखों के लिए बेहद फ़ायदेमंद होते हैं।

तरबूज के बीज, कद्दू के बीज, अल्सिये के बीज और खीरे के बीज यह चारों ही बीज आँखों के कमज़ोरी दूर करने के लिए बेहद उपयोगी माने जाते हैं।

आमतौर पर हम इन बीजों का इस्तेमाल नही करते लेकिन बालों का झड़ना, माइग्रेन, पिंपल और आँखों की कमज़ोरी होने इन बीजों के इस्तेमाल से चमत्कारी फायदे मिलते हैं।

इनसे एंटी ऑक्साइडण्ट, फैटी एसिड, अमीनो एसिड और विटामिन मिनरल से भरपूर होते हैं।

आँखों पर लगे चश्मे से छुटकारा दिलाने में मदद करते हैं।

पाचन, हड़्डियाँ और प्रचा रोगों को भी पुरा ठीक करते हैं।

सभी बीज आपको सुपर मार्केट या राशन कि दुकान पर आसानी से मिल जायेंगे तरबूज, कद्दू, खीरे और अल्सिये के बीजों को बराबर मात्रा मैं मिक्स कर ले और दिन में रोज़ाना खाना खाने के दो घण्टे बाद इनका दो दो चम्मच सेवन करें।

ताज़े अलोवेरा का जूस बालों और आँखों के लिए काफी फ़ायदेमंद होता हैं जिन लोगो को दूर और पास का नही दिखाई देता और आँखों पर चश्मा लगा हैं उन्हें अपने घर में और घर के आस पास अलोवेरा जेल ज़रूर लगाना चाहिए।

अलोवेरा के अंदर बीज अलग अलग तरह के अमीनो एसिड पाए जाते हैं और कहीं तरह ले मिनरल्स जैसे कैल्शियम, पोटाशियम, मैग्नीशियम, आयरन तथा विटामिन A एंड D प्रचुर मात्रा मे पाए जाते हैं ये आँखों को शक्ति प्रदान करने के साथ साथ आँखों की बीमारी ग्लो कौमा, आँखों का सुखापनसुखापन, कैट्रैट और कंजेक्टिवित्य समस्याओ को दूर करता हैं।

ताजा अलोवेरा का जूस बनाने के लिए

अलोवेरा के पत्तिओं को काटकर उसका जेल निकल ले और इस जेल को mixer में डालकर पतला जूस बना ले इसके बाद गैस पर मध्यम आँच पर पानी रख दे इसकी मात्रा तैयार अलोवेरा जूस के बराबर होनी चाहिए।

पानी गर्म होने के बाद इसमें अलोवेरा का जूस को डालकर मध्यम आँच पर पकाए पकाते समय थोड़ा झाग बनेगा बीच बीच मै उसे हटाते रहे दस मिनट पकाने के बाद छान ले और ठंडा होने के बाद से किसी काँच या प्लास्टिक की बोतल में रख दे fridge में रखने के बाद ये जूस दस से पंद्रह दिन तक खराब नही होता रोजाना बीस से 40 ml जूस का सेवन दिन मैं दो बार खाना खाने के पहले करें इसका स्वाद और असर बढ़ाने के लिए इसमें निंबु का रस मिला ले या शहद भी मिलाया जा सकता हैं।

घर पर बना अलोवेरा जूस इतना असरदार होता हैं की मात्र दस से पन्द्रह दिन में इसका असर नजर आने लगता हैं।

अलोवेरा की तरह आँवले का जूस गाजर तथा पालक जूस भी आँखों की रोशनी बढ़ाने के लिए फ़ायदेमंद रहता हैं रोजाना खाली पेट आँवले का जूस और नाश्ते के समय पालक और गाजर का जूस का सेवन करने से आँखों में हर तरह की कमज़ोरी पूरी तरह ठीक किया जा सकता हैं।

इनमें विटामिन A, B, C, D भरपूर मात्रा में पाया जाता हैं जो खासकर आँखों में आई कमज़ोरी के लिए सबसे ज्यादा फ़ायदेमंद होता हैं दरअसल आँखों में आई कमज़ोर कि वजह आँखों का सूखापन भी होता हैं।

खासकर उन लोगों में जो लगातार मोबाइल और कंप्यूटर का इस्तेमाल करते हैं। आँखों में मौजूद पानी की कमी की वजह से आँखों पर भारीपन का बुरा असर दो गुना बढ़ जाता हैं और देखने की शक्ति कम होने लग जाती हैं ऐसी स्तथि में कॉडलीवर् ऑयल और फ्लेक्सीड ऑयल का इस्तेमाल करना चाहिए।

इन दोनों में ही ओमेगा 3 एंड 6 फैटी एसिड और विटामिन D प्रचुर मात्रा में होता हैं ये ना सिर्फ बॉडी के सेल मेम्ब्रेन को प्रोटैक्ट् करते हैं बल्कि आँखों के मॉइस्चर को भी बढ़ाते हैं।

हमारी बॉडी इन आयल को बहुत जल्दी और आसानी से पचा लेते हैं जिससे इनका असर भी कुछ ही दिनों में दिखाई देना लग जाता हैं इसके अलावा ड्राईफ्रूट्स अखरोट, काजू भी आँखों की कमज़ोरी दूर करने के लिए काफी उपयोगी होती हैं।

इनका पुरा फायदा उठाने के लिए खाने का सही तरीका पता होना चाहिए सभी ड्राईफ्रूट्स में मौजूद नुट्रिएंट के लिए हमेशा तीन से चार घण्टे पानी में गला कर खाये पानी में गलाने से इनसे होने वाले फायदे दुग्ने हो जाते हैं।

कम समय में ही अच्छे result मिलने लगते हैं एक अखरोट, पांच काजू और बादाम दिन भर पानी में गला कर छिलके उतार कर शाम के समय खाये।

अब बात करते हैं कुछ सावधानियो की जिनका आँखों की देखबाल करते समय ध्यान रखना जरूरी हैं।

सबसे पहले अपनी आँखों की पानी से रोज़ धोये सुबह और शाम के अलावा दिन में भी एक बार आँखों को धाले और साथ ही जब बाहर के प्रदूषण से घर आये तो उस समय आँखों को धोने का विशेष ध्यान रखे धूप मैं हमेशा सनग्लासेस पहने दिन भर कंप्यूटर पर बैठने का काम करते हैं।

उतनी देर आप कंप्यूटर के सामने रहे कम से कम उतनी देर तक कंप्यूटर की एलेक्ट्रो मग्नेट से प्रोटेक्शन होने वाले चश्मे का इस्तेमाल करें।

रोजाना एक्सरसाइज करे।

ये सभी अंदरुनी और बाहरी अंगों को सेहतमंद बनाये रखने के लिए फ़ायदेमंद होती हैं।


आँखों की रौशनी तेज़ कैसे करे

मुझे उम्मीद है की आपको हमारी यह पोस्ट आँखों की रौशनी तेज़ कैसे करे जरुर पसंद आई होगी. हमारी हमेशा से यही कोशिश रहती है की पढ़ने वाले को आँखों की रौशनी तेज़ कैसे करे के विषय में पूरी जानकारी प्रदान की जाये जिससे उन्हें किसी दूसरी websites या internet में उस इस जानकारी के सन्दर्भ में खोजने की जरुरत ही नहीं रहे। 

इससे आपके समय की बचत भी होगी और एक ही जगह पर सारी जानकारी भी मिल जाये. यदि आपके मन में इस पोस्ट को लेकर कोई भी शंका हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार होनी चाहिए तो इसके लिए आप निचे कमैंट्स में लिख सकते हैं। 

यदि आपको यह post आँखों की रौशनी तेज़ कैसे करे पसंद आया या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter और दुसरे Social media sites share कीजिये। 

इस पोस्ट को इंग्लिश में पढ़े How To Improve Eyesight

improve eyesight at home improve eyesight exercise improve eyesight food improve eyesight in hindi Improve Eyesight Naturally आँखों की रौशनी तेज़ कैसे करे आँखों की रौशनी बढाने के उपाय आँखों की रौशनी कैसे बढ़ाये आँखों की रौशनी बढाने का तरीका आँखों की रौशनी बढाने के घरेलू उपाय आँखों की रौशनी बढ़ाने के लिए क्या खाएं